Garib Kalyan Rojgaar Yojna क्या है, अप्लाई ऑनलाइन 2020

PM Garib Kalyan Yojna:- देश फिलहाल कोरोना की महामारी जूझ रहा है देश के कई राज्यो से लोग काम धंधा न होने के चलते अपने-अपने घर की तरफ पलायन कर रहे है, इसी बीच भारत देश के प्रधानमंत्री ने गरीबो के लिए खास योजना लॉन्च की है PM Garib Kalyan Rojgar Yojna, जो कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग जे जरिये 20 मई 2020 को लॉन्च की गई, भारत मे फिलहाल 21 जून तक 4 लख से अधिक कोरोना के मरीज मिल चुके है, जिसके चलते देश 4 महीने जे लॉकडाउन की स्थिति में है, वही देश के सभी बड़े बड़े उद्योग ठप्प पड़े हुए है और इसका सबसे ज्यादा असर देश के उस गरीब तबके पर हुआ जिनकी आमदनी बेहद ही कम थी.

garib kalyan rojgar yojna

इस योजना का एक मकसद ये भी है कि इससे भारत आत्मनिर्भर की तरफ तो बढ़ेगा ही साथ ही भारत के लोगो को इस अभियान से आत्मनिर्भर बनाना एक बड़ा मकसद है, Garib Kalyan Yojna से लोगो का आत्मसम्मान भी सुरक्षित रहेगा और साथ ही देश व गाँव के विकास में भी उनका योगदान बहुमूल्य होगा.

आइये जानते है PM Garib Kalyan Yojna क्या है, इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्रता क्या है और आप इस योजना का कैसे लाभ उठा सकते है.

PM Garib Kalyan Yojna क्या है

कोरोना महामारी के चलते अपनी नौकरियों को खोने वालो की संख्या इस समय देश मे बहुत तेज़ी से बढ़ रही है, इसको मध्यनजर रखते गए देश के प्रधानमंत्री ने इन सभी प्रवासी मजदूरों को एक बड़ा तोहफा दिया है.

इस योजना के तहत बिहार, उत्तर प्रदेश, उड़ीसा, राजस्थान, झारखंड और मध्यप्रदेश के 116 जिलों में करीब करीब 25 हज़ार लोगो को रोजगार दिया जाएगा, इसको एक योजना न कहकर हम इसको अभियान भी कह सकते है, PM Garib Kalyan Yojna देश भर में लागू की जाएगी जिसकी अवधि 125 दिनों की है.

इस योजना में प्रवासी मजदूर या ऐसे लोग जिनका रोजगार इस कोरोना महामारी के चलते हाथ से निकल गया है वो इस गरीब कल्याण योजना का लाभ ले सकेंगे.

Garib Kalyan योजना को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये लांच की और साथ मे बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना से आपके आत्म सम्मान की सुरक्षा भी होगी और आपके मेहनत से गाँव व क्षेत्र का विकास भी होगा.

गरीब कल्याण योजना के तहत लोगो को अपने नजदीक ग्रामीण इलाका या शहरी भागो में हो रहे सरकारी इंफ्रास्ट्रक्चर या अन्य कोई सरकारी काम इन सभी मे क्षेत्रो में मजदूरों को काम दिया जाएगा.

Apply For PM Garib Kalyan Yojna

इस योजना का लाभ लेने के लिए या इस योजना के तहत रोजगार पा के के लिए आपको अपने गाँव के सरपंच से मिलना होगा, जिसके बाद आप अपना वर्क एक्सपेरिएंस बताना होगा कि आप क्या काम कर सकते है या फिर इससे पहले किस क्षेत्र में आपने काम किया है.

गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत रोजगार पाने के लिए आप तहसीलदार या आपके पास के पटवारी से भी मुलाकात करनी पड़ सकती है या फिर ब्लॉक अधिकारी.

इस योजना के अंतर्गत आपको गाँव मे चल रही सरकारी योजनाओं में काम करने का मौका मिलेगा जिसमे कुआँ, तालाब, या फिर किसी भी तरह का सरकारी इंफ्रास्ट्रक्चर जो केंद्र या राज्य सरकार द्वारा बनवाया जा रहा हो.

Garib Kalyan Yojna के उद्देश्य

इस योजना का एक ही उद्देश्य है भारत के इन राजस्थान, बिहार, उत्तरप्रदेश, झारखंड, मध्यप्रदेश व ओडिसा राज्य के प्रवासी मजदूरों की आर्थिक हालात को सुधारना.

इस योजना का बजट भारत सरकार ने तकरीबन 50 करोड़ के आसपास रखा है, जो इस योजना में काम करने वाले सभी श्रमिको को दिया जाएगा.

कोरोना महामारी से देश के आर्थिक हालात काफी संकट में है, सरकार इस बात को लेकर काफी चिंतित भी है जिसके चलते सरकार आये दिन लोगो के लिए योजना का अनावरण कर रही है जैसे कि गरीब कल्याण योजना का किया.

इस योजना से भारत सरकार करीब करीब 6 राज्यो के 25 हज़ार लोगो को रोजगार देने का दावा करती है जिससे उनकी आर्थिक हालात सुधार सके और देश की अर्थव्यवस्था भी पटरी पर आ सके.

गरीब कल्याण योजना में लाभ

दोस्तो जैसा की आप जानते है देश बीते 4 महीने से कोरोना संकट से झूझ रहा है, ऐसे में इस महामारी का सबसे ज्यादा नुकसान हमारे गरीब भाइयों का हुआ है, जिनको शहर से गाँव की तरफ पलायन करना पड़ा व अपनी नौकरी भी गवानी पड़ी.

अब सरकार इस बात को चिंतित है कि देश की अर्थव्यवस्था कैसे रिकवर की जाये और कैसे लोगो तक पैसा पहुचाया जाए, इसकी को ध्यान में रखते हुए राज्य व केंद्र सरकार ने मिलकर PM Garib Kalyan Yojna को लोगो के लिए शुरू कर दिया.

इस योजना से मिलने वाला रोजगार लाभार्थियों के आसपास के क्षेत्र या शहरों में मुहैय्या करवाया जाएगा, जिससे किसी को बाहर जाने आने में ज्यादा दिक्कत का सामना न पड़े.

ये योजना 125 दिनों के शुरुवाती तौर पर चलाई जाएगी, जिसके बाद इसको आगे बढ़ाया भी जा सकता है हालांकि ये योजना सरकारी होने के कारण मजदूरों को किसी भी तरह की आर्थिक दिक्कतों का सामना नही करना पड़ेगा.

Documents for application

PM Garib kalyan yojna का लाभ लेने के लिए आपके पास जरूरी कागजात होने बेहद जरूरी है जिसकी लिस्ट कुछ इस प्रकार है.

  • आधार कार्ड
  • 10th/8th मार्कशीट
  • बैंक एकाउंट
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाणपत्र
  • आय प्रमाणपत्र
  • बर्थ सर्टिफिकेट

इन सभी प्रमाणपत्रो की एक एक झेरोक्स / फोटॉ कॉपी भी होनी जरूरी है साथ ही आपका एक 3 महीने से कम पुराना कलर पासपोर्ट साइज फोटो.

गरीब कल्याण योजना से जुड़ी कुछ शर्तें

दोस्तो जैसा कि आपको बताया कि PM garib kalyan yojna एक सरकारी योजना है और ये केंद्र व राज्य सरकार दोनों मिलके इसको चलाएंगी, इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको इन सभी शर्तो का पालन कर्मा होगा अन्यथा आप किस योजना का लाभ नही ले सकते.

योजना का लाभ लेने वाले व्यक्ति की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए.

अगर आप इन 6 राज्यो में से किसी एक राज्य के मूल निवासी हो तो ही आपको इस योजना का लाभ मिलेगा.

  • बिहार
  • उत्तरप्रदेश
  • उड़ीसा
  • झारखंड
  • मध्यप्रदेश
  • राजस्थान

आवेदक के पास अपना ओरिजिनल आधार कार्ड होना अनिवार्य है.

योजना के अंतर्गत रोजगार ढूंढने वाले व्यक्ति की उम्र 18 साल से कम नही होनी चाहिए.

PM Garib Kalyan Yojna का लाभ लेने वाले व्यक्ति के पास अपना मूल निवास प्रमाण पत्र होना अतिव्यशक है.

Some FAQ releted To PM Garib Kalyan Yojna

इस योजना के अंतर्गत किस तरह का कार्य करवाया जाएगा?

PM Garib Kalyan Yojna कस अंतर्गत आपके अनुभव के आधार पर आपको काम दिया जाएगा.

गरीब कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए आपकी उम्र कम से 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए.

Garib Kalyan Yojna के लिए प्रमाणपत्र?

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास आधारकार्ड व मूल निवास पत्र होना अनिवार्य है.

गरीब कल्याण योजना कितने दिनों तक चलेगी?

शुरुवाती समय मे ये योजना 125 दिनों तक चलाने का प्रस्ताव है उसके बाद इस योजना को बढ़ाया जा सकता है.

राजस्थान, उत्तरप्रदेश, झारखंड, मध्यप्रदेश, उड़ीसा व बिहार राज्य के अलावा ये योजना किस प्रदेश में शुरू है?

नही, ये योजना योजना सिर्फ इन्ही 6 राज्यो में शुरू की गई है.

PM Garib Kalyan Yojna का मकसद क्या है?

इस योजना का मकसद है कि लोगो को रोजगार मुहैय्या करवाना.

योजना को कब और क्यो शुरू किया गया?

गरीब कल्याण योजना को शुरू करने का मकसद है कि देश में फैली महामारी से झूझ रहे गरीब लोगों को रोजगार देना, साथ ही इस योजना से प्रवासी मजदूरों के जीवन में आर्थिक सुधार लाना भी है, और इस योजना को 20 जून 2020 को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू किया गया है.

Some Important Links

Official WebsiteAvailable Soon
Apply OnlineAvailable Soon

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top